एयर कन्डिशनर (AC) क्या होता है?

+ + +

चलिए जानते है 

+ + +

AC का उपयोग गर्मी के मौसम में वातावरण को ठंडा करने के लिए किया जाता है, लेकिन इसका इस्तेमाल अब शहरों तक ही सिमित नहीं रहा, गावों में भी लोग इसका इस्तेमाल करने लगे है 

+ + +

AC का  full form “Air Conditioner” होता है, जिसे हिंदी में “वातानुकूलक” कहाँ जाता है 

hwb 

AC जहां पर लगा होता है, वहाँ से गर्म हवा को सोख कर अपने अंदर लगे हुऐ Refrigerant और Coils के द्वारा Process करके ठंडी हवा को वापस बाहर फेकता है। जिससे वातावरण ठंडा हो जाता है

Air Conditioner Machine के मुख्य रूप से 4 Part होते है:-

1.) Evaporator
2.) Compressor
3.) Condenser
4.) Expansion Valve 

Evaporator:- यह Heat को Exchange करने वाला Coil होता है 

Compressor:- Compressor को AC का दिल कहाँ जाता है

Condenser:- Condenser का मुख्य काम Compressor से आने वाली High Pressure Refrigerant की Heat को बाहर निकल कर Refrigerant को Gas से Liquid में बदलना होता है

Expansion Valve:- Expansion valve एक AC के अंदर Liquid Refrigerant के फ्लो को कंट्रोल करते है, तथा High Pressure Refrigerant को Low Pressure Refrigerant में बदलते है

R-22, R-32, R-410a, Freon, CFC 

AC मे भरी जाने वाली गैस को रेफ्रीजरेंट कहा जाता है जिसे R से डेनोटे करते है 

Window AC केवल खिड़की पर ही लग सकते है, लेकिन Split AC दो यूनिट में डिवाइड होता है, पहला होता है Out-Door और दूसरा होता है In-Door

AC स्टार रेटिंग 

5 Star AC एक घंटे में 0.8 Units बिजली खर्च करता है

3 Star AC एक घंटे में 0.96 Units बिजली खर्च करता है

2 Star AC एक घंटे में 1.02 Units बिजली खर्च करता है

AC से संबंधित अधिक जानकारी के लिये हमारी ब्लॉग पोस्ट पर विज़िट करे 

- Hindi Web Book

Click Here